बन कर मेरा साया ….मेरा साथ निभाना
“मेरे श्याम ” मैं जहाँ – जहाँ जाऊं …….तुम
वही – वही आना ” मेरे श्याम “|

साया तो छोड़ जाता है …..साथ अधेरें में..
लेकिन तुम अधेरें में, मेरे उजाला बन जाना
” मेरे श्याम”

!! जय श्री श्याम!!

क्या करेगी जीएसटी,
और क्या करेगा वैट।
जिसके कारोबार का
मालिक है साँवरा सेठ॥





??????????
खाटू वाले श्याम करेंगे,
जीवन का उद्धार,
भाग्य से मिला श्याम दरबार ।

भजन भाव का लिया सहारा
पल भर में पाया निस्तारा

सच्चे सुख का भान हो गया
जीवन का कल्याण हो गया
भजन भाव से होता भव से बेड़ा पार ।।
जय जय बाबा श्याम??
जय जय खाटू धाम??

ना पैसा लगता हैं
ना ख़र्चा लगता हैं
RADHE RADHE BOLIYE
बड़ा अच्छा लगता हैं

 

https://i0.wp.com/www.shyamsakha.in/wp-content/uploads/2017/06/shyam-sakha-mandal3.jpg?fit=480%2C720https://i0.wp.com/www.shyamsakha.in/wp-content/uploads/2017/06/shyam-sakha-mandal3.jpg?resize=150%2C150adminश्याम शायरी#quotation,#quotes in hindi,#shyam Baba Quotation,#shyam_baba_status,shyam baba ki shayari in hindi,shyam baba shayariबन कर मेरा साया ....मेरा साथ निभाना 'मेरे श्याम ' मैं जहाँ - जहाँ जाऊं .......तुम वही - वही आना ' मेरे श्याम '| साया तो छोड़ जाता है .....साथ अधेरें में.. लेकिन तुम अधेरें में, मेरे उजाला बन जाना ' मेरे श्याम' !! जय श्री श्याम!! क्या करेगी जीएसटी, और क्या...Hare Ka Sahara, Baba Syam Hamara