गणगोर गीत

ईसर जी तो पेचो बांधे, गौरां बाई पेच संवारे…(सीठणा)

ईसर जी तो पेचो बांधे, गौरां बाई पेच संवारे ओ राज, म्हे ईसर जी की साली छा | साली छा मतवाली ओ राज, भंवर पटा पर वारी  ओ  राज, केशर…
Continue Reading
गणगोर गीत

पाटो धोये पाटो धो , भायां को बहन पाटो धो (गणगौर गीत)

पाटो धोये पाटो धो , भायां को बहन पाटो धो, पाटा ऊपर पीलो पान , महे जाश्या बीरा की जान, जान जाश्या पाँ खास्या, बीरा ने परंणाशयां थाली में खाजा, म्हारो…
Continue Reading
गणगोर गीत

एल खेल नदी बेव – गणगौर गीत

एल खेल नदी बेव ओ पाणी कठ जासी रे, आधो जासी अल्या गल्या आधो इसर न्हासी रे, इसरजी न्हाया धोया गोरा बाई न्हासी रे, गोराबाई क बेटो हुयो भुवा बधाई…
Continue Reading
सूचना एवं कार्यक्रम

चैत्र नवरात्रि 2018 तिथि और शुभ मुहूर्त

साल में दो बार नवरात्रि आते हैं पहले चैत्र नवरात्र और दूसरे शारदीय नवरात्र। इसके अलावा गुप्त नवरात्रि पर भी लोग मां दुर्गा की पूजा अर्चना करते हैं। गर्मियों की…
Continue Reading
गणगोर गीत

म्हारा हरया ऐ झुंवारा एक , गिहुला सिर स बध्या..(रात का गीत )

म्हारा हरया ऐ झुंवारा एक , गिहुला सिर स बध्या | गोर ईसरदास का बाया एक, बहु गोरल सींच लिया | गोर कनीराम का बाया एक, बहु लाडल सींच लिया…
Continue Reading
गणगोर गीत

बाड़ी वाला बाड़ी खोल ,बाड़ी की किवाड़ी खोल..

बाड़ी वाला बाड़ी खोल ,बाड़ी की किवाड़ी खोल छोरिया आयी दूब न | थे कोण्या जीरी बेटी हो , कोण्या जीरी भैण हो के तुम्हरो नाम ह | म्हे भ्रह्मादास…
Continue Reading
गणगोर गीत

ऊँचो , चवरो , चोकुंटो , जल जमना रो नीर मंगाय…

ऊँचो , चवरो , चोकुंटो , जल जमना रो नीर मंगाय। जठ ईशर जी सांपज ,बाई गवरा गवर पूजाय। गवर पूजावंता यूं केब ,सायब आ  जोड़ी अबछाल राख अबछल पीवर सासरो…
Continue Reading
गणगोर गीत

गौर गौर गोमती ईसर पूजे पार्वती…

गौर गौर गोमती ईसर पूजे पार्वती पार्वती का आला-गीला , गौर का सोना का टीका टीका दे , टमका दे , बाला रानी बरत करयो करता करता आस आयो वास…
Continue Reading
श्याम शायरी

हाथों में ले श्याम ध्वजा, मन में ले विश्वास । लो चल चले हम खाटू धाम, अब पूरे होगी हर आस ।।

राधे राधे.....!! हे मेरे श्याम , फ़रियाद तो वहाँ होती है जहाँ ऐतबार न हो मुझे तो यकीन है तुम बिन कहे मेरे दिल की बात जान लेते हो मत…
Continue Reading